निःसंतानता के बढ़ती समस्या को देखते हुए इसके इलाज हेतु इंदिरा आईवीएफ ने राजस्थान में पांचवा और देश का 51 वां सेंटर खोला है। जहां कम खर्च में इस समस्या को दूर करने के सभी अत्याधुनिक इलाज मौजूद हैं।

0
78

भारत में निःसंतानता गंभीर रूप लेती जा रही है, पिछले कुछ वर्षों में निःसंतानता का प्रतिशत तेजी से बढ़ा है लेकिन मरीजों के अनुपात में निःसंतानता उपचार केन्दों की संख्या काफी कम हैं, इस समस्या की ओर ध्यान देकर देश की सबसे बड़ी फर्टिलिटी चेन इन्दिरा आईवीएफ हॉस्पिटल प्रा. लि. ने देश भर में आईवीएफ सेंटर्स की स्थापना की है। ग्रुप ने अपने सेंटर्स का विस्तार करते हुए रियायती दरों पर उपचार उपलब्ध करवाने के लिए एनसीआर क्षेत्र से संबंधित राजस्थान के अलवर में अलवर सेंटर की पहली मंजिल, भगत सिंह सर्कल, स्कीम 1, यस बैंक के सामने अपने नये सेंटर का भव्य शुभारंभ किया है। निःसंतान दम्पतियों अत्याधुनिक इलाज उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से राजस्थान में ग्रुप का कोटा के बाद पांचवा और देश का 51 वां सेंटर है।

इन्दिरा आईवीएफ ग्रुप के चेयरमैन डॉ. अजय मुर्डिया ने अपने संदेश में बधाई देते हुए कहा कि अलवर एनसीआर क्षेत्र में आता है देशभर के कई लोग रोजगार के लिए यहां आकर निवासरत हैं, इस क्षेत्र में निःसंतान दम्पतियों की संख्या ज्यादा है लेकिन आस-पास आईवीएफ सेंटर नहीं होने के कारण उन्हें दूर जाना पड़ता है, दम्पतियों को पास में ही उचित परामर्श व उच्चस्तरीय उपचार मुहैया करवाने के लिए अलवर सेंटर की स्थापना की गयी है।

सेंटर की आईवीएफ स्पेशलिस्ट डॉ. शिवानी अग्रवाल ने कहा कि यहां निःसंतान दम्पतियों की जांचो और समस्या को ध्यान में रखकर उचित परामर्श व मार्गदर्शन दिया जाएगा। सेंटर के शुभारंभ के अवसर पर तथा जागरूकता के उद्देश्य से निःशुल्क निःसंतानता परामर्श शिविर का आयोजन 5 नवम्बर तक किया जा रहा है जिसमें निःसंतान दम्पती विशेषज्ञ चिकित्सकों से परामर्श का लाभ ले सकते हैं। 

Posted By: Priyanka Singh