काम के सिलसिले में गए हों या फिर फ्रेंड्स और फैमिली के साथ वेकेशन पर मौज-मस्ती से अलग थोड़ा समय निकालकर यहां के इन अलग-अलग जायकों को ट्राय करना न भूलें।

0
150

भद्राचलम में खाने-पीने के लिए बहुत अच्छी जगहें हैं, जहां आप अलग-अलग प्रकार के स्थानीय व्यंजनों का लुत्फ उठा सकते हैं। ऐसी ही एक मशहूर जगह है भवानी मेस। वैसे, अगर आप तीखा खाने के शौकीन हैं तो यह जगह आपके लिए परफेक्ट है। दरअसल, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश दोनों राज्यों में मिर्च का भरपूर प्रयोग किया जाता है। हां, आपको यहां वे जगहें भी मिलेंगी, जहां कम मिर्च का प्रयोग होता है या आप अपनी पसंद से कम मिर्च डलवा सकते हैं।

यहां मंदिर परिसर में मिलने वाला प्रसाद जरूर चखें। यह एक अच्छा नाश्ता भी होता है। खासतौर पर मंदिरों के गेट पर मिलने वाले लड्डू, चक्रापोंगली, पुलिहारा और पातिकाबेल्लुम (मिसरी) बहुत वाजिब दाम पर मिल जाते हैं, जिन्हें खाकर दिल खुश हो जाएगा। यहां ज्यादातर रेस्तरां बस स्टेशन के पास हैं। यहां भी खाना बुरा नहीं। वैसे, कुछ न समझ आ रहा हो तो दक्षिण भारतीय थाली ऑर्डर कर दें। सामान्य दक्षिण भारतीय थाली में इडली,वड़ा, पूरी और डोसा रहता है। इसके बाद चाय और कॉफी एक छोटे स्टील के गिलास में पीना भी खास अनुभव है। वेजिटेरियन खानों में बहुत कुछ है, लेकिन यदि आप नॉनवेज तलाश रहे हैं तो धार्मिक जगह होने के कारण यहां यह उपलब्ध नहीं होता है। यहां आप आंध्र और तेलुगु व्यंजनों को ट्राई कर सकते हैं, जैसे-मुरुक्कु, पायसम, बांधर लड्डू आदि।

इन चीज़ों का भी जायका जरूर लें

बिरयानी

वैसे तो हैदराबादी बिरयानी का स्वाद अब दिल्ली, मुंबई, बनारस और कोलकाता हर एक जगह लिया जा सकता है लेकिन जो जायका यहां की बिरयानी में मिलता है वो शायद ही कहीं और मिले। खुशबूदार मसालों और फ्लेवर्स से तैयार बिरयानी खाकर अपने हैदराबाद सफर को करें पूरा। 

मिर्च का सालन

हैदराबादी बिरयानी जितना ही मशहूर है मिर्च का सालन। जिसे यहां आकर बिल्कुल भी न मिस करें। नारियल, मूंगफली और तिल के बीजों से तैयार होने वाली इस जायकेदार ग्रेवी में सबसे खास रोल होता है मिर्च का। हरी-हरी बड़ी मिर्च डिश को तीखा साथ ही साथ चटपटा भी बनाने का काम करती है।

फिरनी

नॉर्थ इंडिया की खीर से मिलती-जुलती है फिरनी। इसे भी ईद के मौके पर ही खासतौर से बनाया जाता है। हालांकि रेस्टोरेंट्स में तो ये डेजर्ट मेन्यू में ऑल टाइम अवेलेबल होता है। दूध और चावल वाली इस डिश में फ्लेवर मिलाकर इसे और ज्यादा जायकेदार बनाया जाता है। 

खुबानी का मीठा      

खुबानी और बादाम से तैयार इस डिश को डेजर्ट के तौर पर खाया जाता है। हैदराबाद आकर इसे चखना तो आपकी लिस्ट में सबसे ऊपर होना चाहिए। इसके असली स्वाद के लिए ऐसे ही खाएं लेकिन खाने के शौकिन इसे आइसक्रीम और मलाई के साथ खाना पसंद करते हैं।

निहारी 

ये एक सूप है जो ईद पर खासतौर से बनाई जाती है। रातभर इसे पकाया जाता है और फिर इसमें मसाले मिक्स कर सर्व किया जाता है। निहारी को पाकिस्तान की नेशनल डिश के नाम से भी जाना जाता है। 

Posted By: Priyanka Singh